Wednesday, January 20, 2021
Simone De Beauvoir

सीमोन द बोउआर : किताबों में खोई रहने वाली लड़की ने...

औरत की नियति क्या है? वह गुलाम क्यों है ? किसने ये बेड़ियाँ कुलांचे मारती हिरणी के पैरों में पहनाई ? सीमोन द बोउआर ने अपनी किताब द सेकेंड सेक्स में इन्हीं सवालों का जवाब तलाशने की कोशिश की है।
कौन थीं ओरियाना फल्लाची

जर्नलिस्ट ओरियाना फ़ल्लाची, जिन्होंने अयातुल्ला खोमैनी को तानाशाह कहा था

अशोक पांडे 1972 में उन्होंने हेनरी किसिंजर का इन्टरव्यू लिया था। कीसिंजर ने उसमें स्वीकार किया था कि वियतनाम युद्ध एक "व्यर्थ युद्ध" था। कीसिंजर...

महिलाएं अब छोड़-तोड़ रही हैं स्त्री विमर्श का मर्दाना पाठ

देवेंद्र आर्य स्त्रियों के लिए अपनी सम्वेदनाएं उड़ेलने वाले पचास ऐसे कवियों-कथाकारों की सूची बनाना चाहता हूं जो अपनी बहन या पत्नी से यह कह...
भाई दूज

औरत को कष्ट सहने की आदत पड़े इसलिए बनाए गए रीति-रिवाजों...

मंजू शर्मा भाई दूज के उपलक्ष्य में किसने ऐसी कथा गढ़ी होगी जिसमें लोकभाषा में रेंगनी (शायद अरंडी) का काँटा छोटी प्यारी बहनों को पाँच...
Indian farmer

करोड़ों की जमीन, कौड़ियों का अन्न… फिर भी खुशहाल डहरुराम

स्मिता अखिलेश जहाँ का किसान पुरखों के जमीन की मिट्टी से अपनी आत्मा को बुहारता, बिछाता और उसे उजला रखता है उसे हम बनियागिरी कैसे...
तनुश्री पांडेय

जर्नलिस्ट तनु श्री को सलाम ! जिनकी रिपोर्टिंग एक मिसाल बन...

दिनेश जुयाल सलाम जर्नलिस्ट तनु श्री! एक बलत्कृत के साथ उसका सच भी तड़प कर मर गया। उसे आधी रात को पुलिस ने पेट्रोल डाल कर...