Wednesday, November 25, 2020
Simone De Beauvoir

सीमोन द बोउआर : किताबों में खोई रहने वाली लड़की ने...

औरत की नियति क्या है? वह गुलाम क्यों है ? किसने ये बेड़ियाँ कुलांचे मारती हिरणी के पैरों में पहनाई ? सीमोन द बोउआर ने अपनी किताब द सेकेंड सेक्स में इन्हीं सवालों का जवाब तलाशने की कोशिश की है।
कौन थीं ओरियाना फल्लाची

जर्नलिस्ट ओरियाना फ़ल्लाची, जिन्होंने अयातुल्ला खोमैनी को तानाशाह कहा था

अशोक पांडे 1972 में उन्होंने हेनरी किसिंजर का इन्टरव्यू लिया था। कीसिंजर ने उसमें स्वीकार किया था कि वियतनाम युद्ध एक "व्यर्थ युद्ध" था। कीसिंजर...
भाई दूज

औरत को कष्ट सहने की आदत पड़े इसलिए बनाए गए रीति-रिवाजों...

मंजू शर्मा भाई दूज के उपलक्ष्य में किसने ऐसी कथा गढ़ी होगी जिसमें लोकभाषा में रेंगनी (शायद अरंडी) का काँटा छोटी प्यारी बहनों को पाँच...
Maitreyi Pushpa on rape victim compensation

बलात्कार पर मुआवजा क्या इंसाफ के लिए उठती आवाज़ दबाने का...

मैत्रेयी पुष्पा जुर्म और इंसाफ़ तराज़ू के दो पलड़ों में रहते हैं और हम हर हालत में जुर्म के बरअक्स इंसाफ़ चाहते हैं। इंसाफ़ होता...
Indian farmer

करोड़ों की जमीन, कौड़ियों का अन्न… फिर भी खुशहाल डहरुराम

स्मिता अखिलेश जहाँ का किसान पुरखों के जमीन की मिट्टी से अपनी आत्मा को बुहारता, बिछाता और उसे उजला रखता है उसे हम बनियागिरी कैसे...
तनुश्री पांडेय

जर्नलिस्ट तनु श्री को सलाम ! जिनकी रिपोर्टिंग एक मिसाल बन...

दिनेश जुयाल सलाम जर्नलिस्ट तनु श्री! एक बलत्कृत के साथ उसका सच भी तड़प कर मर गया। उसे आधी रात को पुलिस ने पेट्रोल डाल कर...